बरसात में हम चले दूधसागर ढूंढने

थोड़ी थोड़ी दूर पर दूधसागर नदी आपके साथ चलती है, उसके बाद पेड़ो के झुरमुट से वेस्टर्न घाट की पहाड़िया आपको नज़र आने लगती है| पहाड़ पर मंडराते बादल एक पल को आपको हिमालय की याद दिला देते हैं, लेकिन फिर पता चलता है की अब नदी के बीच से एक पतली सी रस्सी पकड़ कर आपको आगे जाना है|

Trekking in Western Ghats – Part 2

     Follow the first part of my journey over here It was a new morning and we woke up to reach a new destination, and a new state. A few more kilometers and we entered Karnataka. We reached a small village and language changed to Konkani, the houses started to show up with different wall... Continue Reading →

Blog at WordPress.com.

Up ↑