बरसात में हम चले दूधसागर ढूंढने

थोड़ी थोड़ी दूर पर दूधसागर नदी आपके साथ चलती है, उसके बाद पेड़ो के झुरमुट से वेस्टर्न घाट की पहाड़िया आपको नज़र आने लगती है| पहाड़ पर मंडराते बादल एक पल को आपको हिमालय की याद दिला देते हैं, लेकिन फिर पता चलता है की अब नदी के बीच से एक पतली सी रस्सी पकड़ कर आपको आगे जाना है|

Blog at WordPress.com.

Up ↑